कभी खुद को तो कभी दलित सीएम बनाने की पैरवी करते हैं हरीश रावत, ज्यादा दिन नहीं टिकेगी उनकी खुशी: धामी

Breaking News उधमसिंह नगर कुमाऊं गढ़वाल देहरादून

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने एक बार फिर पूर्व सीएम हरीश रावत को आड़े हाथ लिया है। सीएम धामी ने कहा कि हरीश रावत बार-बार अपने बयान बदलते रहते हैं। कभी वे खुद सीएम बनना चाहते हैं तो कभी दलित मुख्यमंत्री बनाने की पैरवी करते नजर आते हैं। उन्होंने आगे कहा कि ये ज्यादा दिन नहीं चलने वाला। भाजपा प्रचंड बहुमत की सरकार बनाने जा रही है।

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए 14 फरवरी को मतदान संपन्न हो चुका है। सभी राजनीतिक दल अपनी-अपनी जीत के दावे कर रहे हैं। एक ओर जहां पूर्व सीएम हरीश रावत ने कांग्रेस को भारी बहुमत मिलने का दावा दोहराने के साथ ही अन्य लोकतांत्रिक दलों को साथ लेकर चलने के राजनीतिक सौहार्द और सहिष्णुता का विश्वास भी दिलाया और कहा कि सरकार बनने के बाद कांग्रेस किसी के साथ बदले की भावना से काम नहीं करेगी। तो वहीं सीएम धामी भाजपा के पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में आने के दावे करते नजर आ रहे हैं। मुख्यमंत्री धामी ने हरीश रावत के बार-बार बयान बदलने को लेकर उनको आड़े हाथ लिया है। उन्होंने कहा कि उनकी खुशी बस थोड़े ही दिन की है। इसमें कोई संशय नहीं है कि भाजपा की प्रचंड बहुमत की सरकार आने वाली है।
10 मार्च को होगा फैसला
उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए मतदान खत्म होने के बाद अब सभी की नजरें 10 मार्च पर टिकी हुई हैं। इस दिन साफ हो जाएगा कि चुनावी परिणाम किसके पक्ष में रहते हैं। सभी प्रत्याशियों की धड़कनें भी बढ़ गई हैं। उन्हें बेसब्री से परिणामों का इंतजार है।



भितरघात के आरोपों से भाजपा असहज

भाजपा के वर्तमान विधायकों के सामने आ रहे भितरघात के आरोपों से पार्टी संगठन असहज दिख रहा है। पार्टी ने एकाध मामले में जांच की बात कही, लेकिन फिलहाल वह किसी तरह की सख्ती से परहेज कर रही है। ऐसे में विपक्ष कांग्रेस ने भाजपा को निशाने पर लेने में देर नहीं लगाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.